10 Mar
Oyindrila Basu

अपना ज्ञान कैसे बढ़ाएं?

Encyclopaedia

 

 

हम अकसर सोचते हैं, काश हम सब जान पातें, काश हर प्रश्न का उत्तर हमारे पास होता। फिर सब हमें ग्यानी समझतें, इज़्ज़त करते।


हर समस्या का समाधान अगर हमारे पास होता तो कितना अच्छा होता, है न!


तो कैसे हम अपना ज्ञान बढ़ाएं?


1. और पढ़ना चाहिए- किताबों से प्रेम करें। पढ़ने की कोई सीमा नहीं। विभिन्न किताब, विभिन्न विषय पर पढ़ाई करें। हर रोज़ २० पन्ने पढ़ेंगे, तो साल में ७३०० पन्ने खत्म होंगे। बिल गेट्स जी भी किताबों के शौक़ीन हैं। इससे हमारा ज्ञान बढ़ेगा, हम हर विषय पर एक सक्षम मत रख पाएंगे।


2. सवाल करने में ना हिचकिचायें- अगर आप लोगों के बीच चर्चा में शामिल हैं तो, कुछ समझ ना आने पर, चुप मत रहिये, सवाल करिये। कुछ देर के लिए आप शायद ही बेवक़ूफ़ बन जाएँ, लेकिन जवाब मिलने पर आपके दिमाग का अँधेरा घट जाएगा।

 

3. खुद पर ध्यान हटा कर दूसरों पर रुचि दिखाइए- दूसरों में दिलचस्पी रखने वाले जल्द ही दोस्त बना लेते हैं। अगर दूसरे क्या बोल रहे है, उसे सुने तो आप को अलग अलग नज़रिया मिलेगा, और आप जब तर्क-वितर्क कर रहे होंगे, तो ये विभिन्न मत आपको मदद देंगे।

 

4. एक साथ सीखने में जुट जाएँ- सब के साथ ज्ञान बाटने से ही ज्ञान बढ़ता है। दूसरों के साथ ज्ञान आदान-प्रदान करेंगे, तो आप में जो गलतियां है, वे नज़र आएंगी, और आप उसे सुधार पाएंगे।


5. खुद को बेहतरीन की ओर ले चलें- खुद को हमेशा और बेहतर बनाने में लगे रहे। अगर जल्द ही संतुष्ट हो जाएंगे, तो उच्चता पर पहुँचने की इच्छा मर जायेगी।

 

6. निंदा और आलोचना, को ख़ुशी से स्वीकारें- अगर आप प्रशंसा को महत्व देते है, तो निंदा और समालोचना को भी ध्यान में रखें, और उसे बेहतरी का ज़रिया बनाएं।

 

7. खेल खेल में सीखें- अकसर शतरंज, या वीडियो गेम्स में हम कुछ ऐसे कौशल सीखते हैं, जिन्हें हम असल ज़िन्दगी में भी व्यवहार में ला सकते हैं, इसलिए दिमाग को खुला रखें।

8. सिनेमा और हर तरह की खबरों में रुचि रखें- देश में क्या हो रहा है, जीवन में क्या होता है, ये भी जानना ज़रूरी है।


9. आत्मविश्वास अधिक ज़रूरी है- खुद पर भरोसा रखें कि आप ही श्रेष्ठ हैं। खुद पर उम्मीदें बनाएं, और उन पर खरे उतरें।

 

सीखने का कोई उम्र नहीं, और ज्ञान कभी बेकार नहीं जाता। आप जितना सीखेंगे, उतनी आपकी समृद्धि होगी। सिर्फ डिग्री या नौकरी के लिए नहीं, ज्ञान जीवन धारण के लिए होता है। खुद की उन्नति में मदद करता है। अगर आप सीखते रहे तो एक दिन आप के ज्ञान से दुनिया रोशन होगी।

Responses 1

  • omesh upadhay
    omesh upadhay   Dec 27, 2015 08:42 PM

    bahut bahut dhanyabad itni achhi post ke liye..

Book an appointment